ALL TOP NEWS INDIA STATE POLITICAL CRIME NEWS ENTERTAINMENT SPORTS CONTACT US
'एम्पज़िला' लेकर आया है एशिया का पहला डिजिटल जॉब फेयर-2019
April 24, 2019 • Admin

रिपोर्ट : अजीत कुमार

 

 

 

'एम्पज़िला' ने दिल्ली के मथुरा रोड स्थित द फॉरेन कॉरेस्पोंडेंट्स क्लब ऑफ़ इंडिया में आयोजित एक प्रेस वार्ता में घोषणा की, कि भारत का पहला डिजिटल रोजगार मोबाइल ऐप 'एम्पज़िला' 26 अप्रैल, 2019 को जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में भारत का पहला डिजिटल जॉब फेयर आयोजित करने जा रहा है, जिसके लिए गेट नंबर 9 से प्रात: 9 बजे से सायं 6 बजे तक प्रवेश किया जा सकता है।
एम्पज़िला इंडिया प्राइवेट लिमिटेड का यह डिजिटल जॉब फेयर अक्सर लगने वाले पारंपरिक रोजगार मेलों से बिल्कुल अलग होगा। हम नौकरी तलाशने वालों के लिए जॉब सर्च को और आसान बनाने की कोशिश कर रहे हैं, ताकि वे भर्तीकर्ताओं के समक्ष स्वयं को बेहतर तरीके से पेश कर सकें। उदाहरण के लिए, अब नौकरी चाहने वालों या नौकरी के इच्छुक लोगों को पसीना नहीं बहाना पड़ेगा, बल्कि वे एक ऐसे वातानुकूलित सभागार में बैठे होंगे, जिसमें उनके सामने विभिन्न उद्योगों के शीर्ष मानव संसाधन विशेषज्ञ होंगे, जो नौकरी के दौरान पेश आने वाली विविध चुनौतियों या सवालों के बारे में सामने ही चर्चा करेंगे। वे भर्तियों के बारे में सवाल कर सकते हैं जैसे कि एक नियोक्ता नौकरी चाहने वालों से वास्तव में क्या चाहता है। वे किस तरह से रोजगार हेतु अपने अवसर बढ़ा सकते हैं, कैसे खुद को पेश करें कि नियोक्ता का ध्यान उन पर जाये।
'इसलिए अब क्या होने जा रहा है – जॉब फेयर में नौकरी चाहने वालों को साक्षात्कार से ठीक पहले तैयार करने के लिए विशेषज्ञों का समूह सामने होगा। इस प्रक्रिया से अभ्यर्थी के अंदर पहले से कहीं अधिक आत्मसम्मान होगा, सकारात्मकता होगी और उसका ऊर्जा स्तर भी पहले से कहीं अधिक बढ़ा हुआ होगा,' एम्पजिला के डायरेक्टर दिक्षांक कुमार ने बताया।
नौकरी चाहने वालों को ऐप डाउनलोड करना होगा और उसमें अपना प्रोफ़ाइल भरना होगा। अपने सीवी को मोबाइल एप्लिकेशन में अपलोड करने के बाद वे सीधे रिक्रूटर्स के साथ चैट कर पाएंगे और नौकरी के लिए अपने आवेदन की स्थिति भी तत्काल जान पाएंगे। दूसरी बात, जॉब फेयर में एलईडी स्क्रीन लगी होगी, जिस पर स्टॉल नं, कंपनी का नाम और नौकरी का विवरण दिया होगा जो भर्तीकर्ताओं को सही कैंडीडेट खोजने में मदद करेगा। अभ्यर्थियों को भी पता चलता रहेगा कि किस स्टॉल पर जाना है और किस तरह से। इस तरह से समय नष्ट नहीं होगा। कंपनी का एकमात्र मकसद है कि भर्ती करने वाले को सही समय पर सही उम्मीदवार मिलें और नौकरी चाहने वाले को बेहतर भविष्य के लिए सही नियोक्ता मिल सके।