ALL TOP NEWS INDIA STATE POLITICAL CRIME NEWS ENTERTAINMENT SPORTS CONTACT US
अजिंक्य रहाणे की जगह टीवन स्मिथे होंगे राजस्थान रॉयल्स के कप्तान
April 21, 2019 • Admin

 

 

 

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) फ्रेंचाइजी राजस्थान रॉयल्स ने अजिंक्य रहाणे को कप्तानी से हटा दिया है और उनकी जगह ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज स्टीवन स्मिथ को इस सीजन के शेष बचे मैचों के लिए टीम की कमान सौंपी है। राजस्थान ने शनिवार को एक बयान जारी कर बताया कि रहाणे एक मुख्य खिलाड़ी के रूप में टीम से जुड़े रहेंगे लेकिन टीम का नेतृत्व अब स्मिथ के हाथों में होगा। 
राजस्थान रॉयल्स के क्रिकेट के प्रमुख जुबिन भरुचा ने कहा कि रहाणे टीम में हैं और वे हमेशा रॉयल्स के साथ रहेंगे। उन्होंने 2018 में चुनौतीपूर्ण माहौल में टीम को प्लेऑफ में पहुंचाया था। वे हमारी टीम और नेतृत्व का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बने हुए हैं और स्मिथ को जहां भी जरूरत होगी वे उनकी मदद करेंगे। 
उन्होंने कहा, स्मिथ सभी प्रारूपों में दुनिया के सबसे सफल कप्तानों में से एक हैं। हमें विश्वास है कि वे रॉयल्स को सफलता की ओर ले जा सकते हैं। रहाणे ने इस सीजन के आठ मैचों में अब तक 201 रन बनाए हैं, जिसमें 70 उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर है। वहीं, स्मिथ ने सात मैचों में अब तक 186 रन बनाए हैं, जिसमें नाबाद 73 रन उनका सर्वोच्च स्कोर है। गेंद से छेड़छाड़ के आरोप में दोषी पाए गए स्मिथ ने एक साल के बैन के बाद मैदान पर वापसी की है।
इसके इतर लगातार हार से निराश राजस्थान रॉयल्स को अपना कप्तान बदलने का फायदा मिला और उसे मुंबई इंडियंस के खिलाफ शनिवार को आईपीएल-12 मुकाबले में महत्वपूर्ण जीत मिल गई। राजस्थान ने इस मुकाबले में मुंबई को पांच विकेट से हराकर टूर्नामेंट में नौ मैचों में तीसरी जीत हासिल की जिससे उसकी उम्मीदें बनी हुई हैं। राजस्थान की नौ मैचों में यह तीसरी जीत है और उसके छह अंक हो गए हैं। हालांकि प्लेऑफ में जाने के लिए राजस्थान को अपने शेष पांचों मैच जीतने होंगे। दूसरी तरफ मुंबई को 10 मैचों में चैथी हार का सामना करना पड़ा।
गौरतलब है, कि रहाणे की कप्तानी में राजस्थान ने पिछले साल प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई किया था। वहीं दूसरी ओर गत वर्ष दक्षिण अफ्रीका दौरे में केपटाउन टेस्ट में बॉल टैम्परिंग के कारण 1 वर्ष का निलंबन झेल चुके स्मिथ को हाल ही में घोषित ऑस्ट्रेलिया की आईसीसी विश्व कप टीम में भी शामिल किया गया है। स्मिथ को बॉल टैम्परिंग प्रकरण के कारण गत वर्ष आईपीएल में भी शामिल नहीं किया गया था।