ALL TOP NEWS INDIA STATE POLITICAL CRIME NEWS ENTERTAINMENT SPORTS CONTACT US
कितनी मजबूत है महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स
March 17, 2019 • Admin

 

 

 

चेन्नई सुपर किंग्स, आईपीएल इतिहास की एकलौती ऐसी टीम है जिसने पिछले 11 में से खेले 9 सीजन में हर बार प्ले ऑफ में जगह बनाई और तीन बार इस खिताब को अपने नाम किया। दो साल के बैन के बाद साल 2018 में येलो ब्रिगेड की वापसी में जहां माही कई बार अपनी टीम को लेकर इमोशनल दिखे वहीं आईपीएल-2019 के लिए माही ने इस ट्रॉफी को जीतने के लिए एक सशक्त टीम चुनी है। साल 2018 में जब इस टीम का ऑक्शन खत्म हुआ था तो इन्हें पुरानी टीम और "Dad's army जैसे शब्दों से ट्रोल किया गया था लेकिन धोनी ने अपने बेस्ट क्रिकेटिंग ब्रेन से इसे एक और खिताब दिलाया जो कोई भी फ्रेंचाइजी अब तक नहीं कर पाई है।
अंग्रेजी का कहावत ओल्ड इज गोल्ड माही और उनकी येलो आर्मी पर आईपीएल-2019 में सबसे सटीक बैठता है। धोनी (37 साल), शेन वाटसन (37 साल), अंबाती रायडू (33 साल),हरभजन सिंह (38 साल), मोहित शर्मा (30 साल) ये वो दिग्गज खिलाड़ी हैं जिनकी उम्र सिर्फ एक अंक है। धोनी,वाटसन और रायडू की तिकड़ी ने चेन्नई के तीसरी बार (आईपीएल-2018) की जीत में सबसे बड़ी भूमिका निभाई थी। मोहित शर्मा को तो इस बार चेन्नई ने 5 करोड़ में खरीदा है। 23 मार्च से शुरू होने वाले आईपीएल में सबकी नजरें इन श्बूढ़े शेरोंश् के प्रदर्शन पर होगी। जिस यो-यो टेस्ट को टीम इंडिया में शामिल होने के लिए अनिवार्य माना जाता है. चेन्नई के किसी भी खिलाड़ी को उस टेस्ट से नहीं गुजरना होगा।
अंबाती रायडू (602 रन), शेन वाटसन (555 रन) और धोनी (455 रन) इन तीन खिलाड़ियों ने आईपीएल-2018 में जमकर रन बरसाए थे। चेन्नई सुपर किंग्स को एक बार फिर अपने इन खिलाड़ियों से शानदार प्रदर्शन की उम्मीद होगी। चेन्नई की टीम में आईपीएल-2019 में 8 विदेशी खिलाड़ी हैं जबकि कुल 25 खिलाड़ी टीम का हिस्सा होंगे। फैफ डुप्लेसिस वाटसन के साथ ओपनिंग की कमान संभाल सकते हैं या मुरली विजय भी उनके साथ आएं। रायडू के लिए विश्व कप 2019 के टिकट पाने का आखिरी मौका यह आईपीएल हो सकता है जहां वो अपने प्रदर्शन से चयनकर्ताओं का सिरदर्द बढ़ा सकते हैं।
चेन्नई सुपर किंग्स का मिडिल आर्डर काफी मजबूत है और यह किसी भी विपक्षी टीम के छक्के छुड़ा सकती है। सुरेश रैना, केदार जाधव, अंबाती रायडू, चैतन्य विशनोई, सैम बिलिंग्स, ध्रुव शोरी, ऋतुराज गायकवाड़ इनके प्रमुख खिलाड़ी हैं। रैना लम्बे समय से टीम इंडिया से बाहर हैं तो अपना हुनर दिखाना चाहेंगे वहीं रायडू और जाधव भी विस्फोटक पारी खेलने को बेताब हैं। सैम बिलिंग्स पर भी सबकी निगाहें टिकी रहेंगी।
चेन्नई सुपर किंग्स की टीम ने चार ऑल राउंडर भी अपनी टीम में शामिल किया है जिसमें रविंद्र जडेजा, ब्रावो, डेविड विली और मोनू कुमार शामिल हैं। किसी भी मैच में ब्रावो और जडेजा मैच पलटने की क्षमता रखते हैं वहीं विली भी अपने ऑल राउंड प्रदर्शन से कई मौकों पर टीम के लिए मैच जिताऊ खिलाड़ी साबित हो चुके हैं। चेन्नई के ऑल राउंडर की सूची में सुरेश रैना भी हैं जिन्होंने लगातार इस टीम के लिए अपना बेस्ट प्रदर्शन किया है।
महेंद्र सिंह धोनी बढ़ती उम्र के साथ आईपीएल में एक के बाद एक कई उपलब्धियां हासिल कर रहे हैं। 37 वर्षीय माही ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन लगातार मैचों में तीन पचासा ठोक अपना फॉर्म दिखा चुके हैं। पिछले साल अपनी टीम में खिताब दिलाने में माही की बड़ी भूमिका थी। उन्होंने 16 पारियों में कुल 455 रन बनाए थे। यह आईपीएल इतिहास में दूसरा सबसे बड़ा व्यक्तिगत स्कोर था। उन्होंने आईपीएल इतिहास में तीसरी बार 300 से अधिक गेंदों का सामना किया। आईपीएल-2019 में भी माही का इमोशनल टच पेश किया जा चुका है। अब यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या धोनी इस बार के आईपीएल में भी कोई बड़ा धमाका कर पाएंगे।