ALL TOP NEWS INDIA STATE POLITICAL CRIME NEWS ENTERTAINMENT SPORTS CONTACT US
डीडीए डाबरी-पालम रोड के बीच बनी दुकानों को मुआवजा देकर हटाएगा
March 1, 2019 • Admin

रिपोर्ट : अनुज झा

 

 

 

पश्चिम दिल्ली के लोगों को गुरुग्राम व द्वारका जाने के लिए पंखा रोड से डाबरी पालम रोड होकर  जाते समय सड़क के बीच बनी तीन दुकानों के कारण हर रोज ट्रैफिक जाम की समस्या से परेशान होनापड़ता है। यह समस्या पिछले कई वर्षों से बनी हुई है। सन 2017 में 5 दिसंबर को दिल्ली के उपराज्यपाल ने सभी संबंधित विभाग अध्यक्षों की मीटिंग राज निवास में बुलाई थी और यह निर्देश जारी किया था कि डीडीए 21 दिसंबर2017 से पहले इस समस्या का हल निकाल कर डिस्ट्रिक्ट कोर्ट को सूचित करें। ज्ञातव्य है कि यह मामला द्वारका डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में सन 2016 से लंबित पड़ा है।

आज आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता व राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने इस मुद्दे पर डीडीए के उपाध्यक्ष तरुण कपूर के साथ मीटिंग की इस मीटिंग में डीडीए के चीफ लॉ ऑफिसर विनोद यादव, प्रधान आयुक्त लैंडमैनेजमेंट आरएन शर्मा के अलावा जनकपुरी के पूर्व निगम पार्षद संजय पुरी भी मौजूद थे। बैठक में सांसद संजय सिंह ने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि बाहरी रिंग रोड पंखा रोड पर ट्रैफिक की समस्या को कंट्रोलकरने के उद्देश्य से एमसीडी ने डाबरी फ्लाईओवर का निर्माण किया था, लेकिन इतने वर्ष बीत जाने के बाद भी लोगों को ट्रैफिक जाम की समस्या से जूझना पड़ता है डीडीए के गैर जिम्मेदाराना रवैया के कारण इस समस्या का हलनहीं निकल पा रहा है ! तत्पश्चात डीडीए के उपाध्यक्ष तरुण कपूर ने सांसद संजय सिंह को आश्वासन दिया कि डीडीए अब गंभीरता से इस समस्या के निवारण के लिए काम कर रही है। डीडीए ने दिल्ली सरकार के रेवेन्यूविभाग को पत्र लिखकर आग्रह किया है कि इन दुकानों की एवज में जो मुआवजे की राशि बनती हो डीडीए को बताया जाए ताकि डीडीए उसके अनुसार इन दुकान के मालिकों को मुआवजा दे सके।

सांसद संजय सिंह ने इसके बाद दिल्ली सरकार के रिवेन्यू मंत्री कैलाश गहलोत से मोबाइल पर बात की और उन्हें कहा कि दिल्ली सरकार का रेवेन्यू विभाग 2 दिन के अंदर इस संबंध में अपनी रिपोर्ट डीडीए को जमा कराए। तरुण कपूर ने सांसद संजय सिंह को इस बात के लिए आश्वस्त किया कि जैसे ही रेवेन्यू डिपार्टमेंट से रिपोर्ट डीडीए को मिलेगी उसके बाद डीडीए 6 मार्च को जब इस मामले की अगली सुनवाई द्वारका डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में है। इसकी जानकारी कोर्ट को देगी और इन दुकानों से स्टे हटाने की अपील करेगी और उसके बाद इन दुकानों को तोड़कर सड़क को चौड़ा करने का काम शुरू किया जा सकेगा।

मीटिंग के पश्चात जनकपुरी के पूर्व निगम पार्षद संजय पुरी ने खुशी जताते हुए यह कहा कि अब उन्हें लगने लगा है कि पश्चिम दिल्ली के लोगों को पालम डाबरी रोड से होकर गुरुग्राम या द्वारका जाने के समय जिस ट्रैफिक जामसे जूझना पड़ता है अब उस समस्या से लोगों को निजात मिलेगी।