ALL TOP NEWS INDIA STATE POLITICAL CRIME NEWS ENTERTAINMENT SPORTS CONTACT US
दिल्ली के प्रेम नगर में शराब की बोलत चुराने के आरोप में युवक को किया घायल
March 22, 2019 • Admin

रिपोर्ट : अजीत कुमार

 

 

 

देश भर में होली का दिन हुड़दंग और रंगों से सराबोर रहा, औऱ जगह जगह न चाहते हुए भी कई लड़ाई झगड़े और मारपीट की घटनाएं हो गयी। ताज़ा मामला दिल्ली के प्रेम नगर थाना इलाके का है जहाँ, शराब पीने के बाद शराब की ही बोतल चुराने के आरोप में एक पड़ोसी ने दूसरे पड़ोसी ने दाँत से काटकर गाल को चेहरे से अलग कर उसे बुरी तरह जख्मी कर दिया, घायल युवक की हालत स्थिर है। और प्रेम नगर थाना पुलिस मामले की जांच में जुटी गयी है।
होली जहां रंगों का त्योहार है तो वहीं दूसरी तरफ होली का हुड़दंग से भी हम आप सभी वाकिफ हैं, बाहरी दिल्ली के प्रेम नगर थाना इलाके में होली की सराबोर में एक अजीबोगरीब किस्सा हुआ है, जहाँ कुछ लोग आपस मे बैठ कर जाम टकरा रहे थे, सब कुछ ठीक चल रहा है था, होली के इस जश्न में विजय गुप्ता भी शामिल थे। उनकी पत्नी ने बताया कि जैसे ही वो वहां से नशे में अपने घर पहुँचे तो उनके पीछे पीछे उनका पड़ोसी मंटू ओर उसकी पत्नी उनके घर आ गए और विजय गुप्ता पर शराब की एक बोतल चुरा कर लाने का आरोप लगाने लगे बस विजय ओर उनकी बीवी ने मना किया और घर जा पहुँचे ओर देखते ही देखते विवाद इतना बढ़ गया कि पहले तो विजय गुप्ता के साथ जमकर मारपीट की गई और आरोप है कि मंटू ने अपने दांतों से विजय के गाल को काटकर चेहरे से अलग कर बुरी तरह घायल कर दिया।
इस मामले में घायल विजय गुप्ता को सूचना के बाद मौके पर पहुँची पुलिस ने मंगोल पूरी के सजंय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया जहाँ डॉक्टर्स ने इलाज के बाद पीड़ित को छुट्टी दे दी, हालांकि नशे में होने की वजह से घायल को दर्द का एहसास कुछ जरूर हो रहा है। लेकिन महज एक शराब की बोलत की चोरी के आरोप में चेहरे से गाल काटकर अलग करने की खबर पूरे इलाके में आग की तरह फैल गयी और ये घटना स्थानीय लोगो मे चर्चा का विषय बन गयी है। पीड़ित का आरोप है कि आरोपी पहले भी ऐसे ही कई अन्य लोगो को काट कर घायल कर चुका है, ओर अभी तक इस मामले में पुलिस उसे गिरफ्तार नही कर पाई है। 
बरहाल घायल युवक को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी है, और प्रेम नगर थाना पुलिस भी मामला दर्जकर आरोपी की तलाश में जुट गई है। वहीं होली के हुड़दंग में लोगो ने जाने क्यों अपने होश खो देते हैं ऐसी वारदातें हो जाती हैं, जिसके बाद होली की सारी खुशियाँ मातम में बदल जाती है, ऐसे में जरूरत है कि लोग रंग के इस त्योहार को रंगों और तक ही सीमित रखें और हुड़दंग के नाम पर एक दूसरे के साथ लड़ाई झगड़ा और मारपीट जन करें। और खुद भी सुरक्षित रहें और दूसरों को भी सुरक्षित रखें।