ALL TOP NEWS INDIA STATE POLITICAL CRIME NEWS ENTERTAINMENT SPORTS CONTACT US
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बिहार के भागलपुर में चुनाव की हुंकार भरी
April 11, 2019 • Admin

 

 

 

वीडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करें 

 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को बिहार के भागलपुर से हुंकार भरते हुए विशाल जन-सभा को संबोधित किया और राजद-कांग्रेस सहित महागठबंधन के सहयोगियों पर जम कर हमला किया। इस दौरान मंच पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उप-मुख्यमंत्री सुशील मोदी और रामविलास पासवान भी उपस्थित थे।
आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर देशभर में चुनाव प्रचार अभियान तेज़ होता जा रहा है| इसी फेहरिस्त में गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बिहार के भागलपुर पहुंचे, जहां उन्होंने एक विशाल जन-सभा को संबोधित किया| प्रधानमंत्री ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि 70 साल तक देश की जनता ने लाल बत्ती के रौब को बढ़ते देखा लेकिन गरीब के घर बत्ती जले, इसकी चिंता नहीं की गई। इस चौकीदार ने लाल बत्ती हटाई और गरीबों के घर सफेद बत्ती जलाई है। उन्होंने कहा कि बड़े-बड़े फार्म हाउस वाले, महल जैसे बंगले बनाने वाले नामी-बेनामी संपत्ति खड़ा करने वाले भी आपने बहुत देखे हैं। उनसे अलग, इस चौकीदार ने आपके चूल्हे-चौके का ध्यान रखा है। नेताओं को अपने आंगन तक चकाचक सड़क पहुंचाते तो आपने बहुत देखा, बिहार के गांव-गांव तक सड़कें पहुंचाने का बीड़ा इस चौकीदार और उसके साथियों ने उठाया है।
मोदी ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत देश के 12 करोड़ से अधिक किसानों के बैंक एकाउंट में 6,000 रुपये की वार्षिक सहायता राशि पहुंचाई जा रही है। यदि आपका आशीर्वाद इसी तरह बना रहा तो देश के सभी किसानों के लिए यह योजना लागू की जायेगी। उन्होंने कहा सुरक्षा चाहे आपके हितों की हो, आपके सम्मान की हो या फिर देश की सीमा की, ये सबसे ज़रूरी है।
प्रधानमंत्री ने देश के नागरिकों को याद दिलाते हुए कहा कि 2014 से पहले पाकिस्तान का रवैया क्या था, यह पूरे देश की जनता जानती है। आतंकवादी भी पाकिस्तान भेजता था और फिर हमलों के बाद धमकियां भी वही देता था। कांग्रेस की अगुवाई वाली सरकार सिर्फ कागजी कार्रवाई में उलझकर रह जाती थी। क्या भारत को ऐसे ही रहना चाहिए था? क्या डर-डर कर जीना ही हमारी नीति होनी चाहिए थी? क्या देश के वीर सपूतों के हाथ बांधना सही था? हमने घर में घुसकर मारा क्योंकि शांति की बात भी वही कर सकता है जिसकी भुजाओं में दम होता है।