ALL TOP NEWS INDIA STATE POLITICAL CRIME NEWS ENTERTAINMENT SPORTS CONTACT US
भारतीय रेल के राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता खिलाडि़यों को पीयूष गोयल ने सम्मानित किया
September 1, 2019 • Admin

रिपोर्ट: अजीत कुमार

 

 

रेल और वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने दिल्ली में राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्‍त करने वाले रेल कर्मचारियों को सम्मानित किया। पीयूष गोयल ने खेल क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए बजरंग पुनिया को 7.5 लाख रुपये का चेक और एक शॉल भेंट किया। इसके अलावा एस. भास्‍करन, सोनिया लाठेर, चिंगलियाना सिंह कंगुजम, पूनम यादव, नटीन कीर्तन प्रत्येक को 5-5 लाख रुपये के चेक और शॉल देकर सम्मानित किया। बजरंग पुनिया को 2019 का राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार और एस भास्करन, सोनिया लाठेर, चिंगलियाना सिंह कंगुजम, पूनम यादव को अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। नीटन किर्तने को ध्यानचंद पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।

इस अवसर पर अपने संबोधन में गोयल ने राष्ट्र और भारतीय रेलवे को अपने खेल क्षेत्र में उत्‍कृष्‍ट प्रदर्शन से गौरवान्वित करने के लिए इन खिलाड़ियों की उपलब्धियों पर उन्‍हें बधाई दी। उन्होंने खिलाडि़यों को भविष्य में होने वाले टूर्नामेंट में भी इसी तरह के प्रदर्शन करने के लिए अपनी शुभकामनाएं दीं। गोयल ने रेलवे खिलाड़ियों को उनके खेल क्षेत्र में सहायता और सहयोग जारी रखने का आश्वासन भी दिया। माननीय प्रधानमंत्री द्वारा शुरू किए गए 'फिट इंडिया कैंपेन' से प्रेरणा लेते हुए गोयल ने सलाह दी कि भारतीय रेल को 'फिट रेलवे, फिट इंडिया' अभियान का शुभारंभ करना चाहिए और सभी कर्मचारियों को फिटनेस गतिविधियों में भाग लेना चाहिए। उन्होंने रेलवे कर्मचारियों और उनके बच्‍चों के साथ-साथ आम लोगों को लाभान्वित करने के लिए रेलवे परिसर में व्यायामशाला/फिटनेस सेंटर खोले जाने की भी सलाह दी।

भारतीय रेल में प्रसिद्ध खिलाडि़यों के उत्‍कृष्‍ट प्रदर्शन की एक लंबी परंपरा रही है। अब तक भारतीय रेल के खिलाड़ियों को 23 पद्मश्री, 166 अर्जुन, 11 ध्यानचंद, 9 द्रोणाचार्य और 6 राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कारों से सम्‍मानित किया जा चुका है। इस शानदार विरासत को जारी रखते हुए, इस वर्ष भी छह खिलाडि़यों ने पुरस्कार जीते हैं। भारतीय रेल के रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड (आरएसपीबी) को खेलों के क्षेत्र में इन प्रतिष्ठित पुरस्‍कार प्राप्तकर्ताओं का संरक्षक होने पर गर्व है।