ALL TOP NEWS INDIA STATE POLITICAL CRIME NEWS ENTERTAINMENT SPORTS CONTACT US
मर्दों के वेश में करती थी लूटपाट दिल्ली की लेडी डॉन
March 24, 2019 • Admin

रिपोर्ट : अजीत कुमार

 

 

जनकपुरी में 11 मार्च को दो लुटेरों ने एक महिला को लूटने के बाद उन्हें काफी दूर तक बाइक के साथ घसीटा था। इस मामले का पुलिस ने खुलासा करने का दावा किया है। दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। पश्चिम जिला पुलिस के स्पेशल स्टाफ ने महिला और उसके सहयोगी निहाल विहार निवासी रमणीक सिंह (24) को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस को चकमा देने के लिए रमनजीत कौर पुरुषों के कपड़े पहनकर वारदात करती थी। वह निहाल विहार थाने की घोषित बदमाश है और पुलिस ने उसे दो साल के लिए तड़ीपार किया था। इनके कब्जे से पुलिस ने एक बाइक, स्कूटी, पीड़िता का बैग, एटीएम कार्ड व एक हजार रुपये बरामद किए हैं।
पश्चिम जिला पुलिस उपायुक्त मोनिका भारद्वाज ने बताया कि 8 मार्च को रोशनपुरा निवासी शोभा (53) महिला दिवस पर हुए एक कार्यक्रम में आई थीं। बाइक सवार बदमाशों ने उनका बैग झपट लिया। बैग नहीं छोडने पर बदमाश उन्हें सड़क पर तब तक घसीटते रहे, जब तक उन्होंने बैग छोड़ नहीं दिया। पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। स्पेशल स्टाफ की टीम ने सीसीटीवी फुटेज देखी तो पता चला कि बाइक की पिछली सीट पर कोई महिला थी। पुलिस ने झपटमारी करने वाली युवतियों की जानकारी हासिल की तो मुखबिर ने झपटमार महिला की पहचान रमनजीत कौर के रूप में की। 20 मार्च को पुलिस ने एक सूचना के बाद ऑक्सफोर्ड स्कूल के पास घेराबंदी कर स्कूटी से पहुंची रमनजीत कौर और उसके सहयोगी रमणीक सिंह को गिरफ्तार कर लिया। स्कूटी नांगलोई इलाके से चुराई गई थी।
पूछताछ में रमनजीत कौर ने बताया कि उसकी शादी तेजेंदर सिंह से हुई है। बाद में वह जगजीत सिंह जग्गा के संपर्क में आई और झपटमारी व लूटपाट करने लगी। पुलिस को झांसा देने के लिए वह पुरुषों के कपड़े पहन लेती थी। वर्ष 2014 में पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया। रमनजीत कौर जमानत पर बाहर आ गई, जबकि जगजीत सिंह जेल में रहा। इसी बीच पुलिस ने तेजेंदर सिंह को भी हत्या के मामले में गिरफ्तार कर लिया।
इसके बाद वह रमणीक के साथ वारदात करने लगी। पुलिस ने 2018 में उसे गिरफ्तार कर लिया। जेल से जमानत पर निकलने के बाद वह वारदात करने लगी। पुलिस ने 2016 में उसे तड़ीपार किया था। रमणीक पर सात और रमनजीत कौर पर पहले से 13 आपराधिक मामले दर्ज हैं। रमणीक चंदर विहार के एक प्रॉपर्टी डीलर व फाइनेंसर के यहां कलेक्शन एजेंट है। प्रॉपर्टी डीलर के पास बाइक गिरवी थी। रमणीक वारदात में इसका इस्तेमाल करता था। जनकपुरी की वारदात में इसी बाइक का इस्तेमाल हुआ था।