ALL TOP NEWS INDIA STATE POLITICAL CRIME NEWS ENTERTAINMENT SPORTS CONTACT US
ये लहर नहीं ललकार है, एक बार फिर भाजपा सरकार है - प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी
April 30, 2019 • Admin

रिपोर्ट : अजीत कुमार

 

 

 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बिहार के मुजफ्फरपुर में आयोजित विशाल जन-सभा को संबोधित किया और बिहार को भ्रष्टाचार एवं जंगलराज से मुक्त रखने के लिए केंद्र में एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व में एनडीए सरकार बनाने की अपील की।
मोदी ने मुजफ्फरपुर में गर्जना करते हुए कहा कि देश की जनता ने यह स्पष्ट कर दिया है कि ये लहर नहीं ललकार है, एक बार फिर भाजपा सरकार है। चार चरणों के बाद महामिलावटी विपक्ष चारों खाने चित हो जाने वाला है। अब अगले चरणों में ये तय करना है कि इनकी हार कितनी बड़ी होगी और भाजपा एनडीए की जीत कितनी भव्य होगी।
प्रधानमंत्री ने कहा कि जिन्होंने बिहार की पहचान बदली थी, वे इस चुनाव में केंद्र में अपनी सरकार बनाने के लिए नहीं लड़ रहे, वे तो किसी भी तरह से अपने सदस्यों की संख्या बढ़ाने के लिए छटपटा रहे हैं। इसलिए मैं बिहार के लोगों को सावधान कर रहा हूं। उन्होंने कहा कि जिन्होंने बिहार की पहचान बदली, ऐसे महामिलावटी लोगों की ताकत बढ़ाने का मतलब है - बिहार में फिर से लूट-पाट के दौर की वापसी, बेटियों का अपहरण, गुंडागर्दी, हत्याएं, हर योजना में भ्रष्टाचार सूरज ढलने के बाद अपने ही घर मे कैद हो जाना, घुट-घुट के जीना और पलायन के लिए मजबूर होना। उन्होंने कहा कि आज फिर ये महामिलावटी विपक्ष बिहार पर अपनी गिद्धदृष्टि जमाए हुए हैं। ये बिहार को जाति में बांटकर, समाज को बांटकर अपना स्वार्थ सिद्ध करना चाहते हैं। वे अपने भ्रष्टाचार को, अपने काले कारनामों को छिपाना चाहते हैं। उनका लक्ष्य है कि किसी भी प्रकार से दिल्ली में एक कमजोर, मजबूर सरकार बने ताकि वे मनमानी कर सके।
प्रधानमंत्री ने कहा कि जो जेल में हैं, जो जेल के दरवाजे पर हैं, जो बेल पर हैं, जो बेल के लिए कोर्ट कचहरी के चक्कर काट रहे हैं, वे केंद्र में एक मजबूत सरकार को एक मिनट भी बर्दाश्त नहीं करना चाहते। उन्होंने कहा कि नीतीश जी, पासवान जी सुशील जी, सभी के प्रयत्‍नोें से बिहार ने पुराने दौर को पीछे छोड़ा है। एनडीए की जीत को लोग बेताब हैं। बिहार के लोगों को सावधान रहने की जरूरत है। महामिलावटी विपक्ष चाहे कितनी भी कोशिश कर लें, कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ जो अभियान हमने चलाया हुआ है, उसकी रफ्तार धीमी नहीं पड़ेगी। जो बड़े-बड़े शॉपिंग मॉल, फॉर्म हाउस खड़े हुए हैं, उसका भी हिसाब देना होगा। इनको गरीब का लूटा एक-एक पैसा लौटाना ही पड़ेगा। भगोड़ों को भी भारत वापस आना ही होगा। मिशेल मामा को वापस लाए, इनके चाचा को भी वापस लाएंगे।
मोदी ने कहा कि महामिलावटी विपक्ष के लिए सत्‍ता से बड़ा देश भी नहीं, केवल अपनी चिंता है। याद कीजिये वो दिन, जब देश के बड़े-बड़े शहरों में कभी ट्रेन में, कभी बाजार में, कभी बस में, कभी मंदिर में, कभी रेलवे स्टेशन पर, बम धमाके हुआ करते थे। बम धमाकों के उस दौर में कांग्रेस और उसके साथी, कैसे कमजोरों की तरह बर्ताव करते थे, ये भी याद रखिए। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि चाहे देश के भीतर हो या फिर सीमा के पार, आतंक और हिंसा फैलाने वाली फैक्ट्री जहां भी होगी, इस चौकीदार के निशाने पर है। भारत को जहां से भी खतरा होगा, हम घर में घुसकर मारेंगे, ये तय है। हमारी नी‍त‍ि स्‍पष्‍ट है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और उसके सहयोगी आतंकवाद पर कुछ नहीं कर सकते, पाक का नाम सुनते ही इनके पैर कांपने लगते हैं। सर्जिकल स्ट्राइक के नाम पर इन्हें एलर्जी होती है। मोदी ने कैसे कर दिया, इससे इनकी नींद हराम हो जाती है, ये इन्हें सोने नहीं देता। इनकी जमीन ख‍िसक रही है। पांच वर्षों में ऐसे लोग बेल के लिए तरस गए हैं। देश की जनता को स्‍वार्थ और अपने हित के लिए महामिलावट वालों की मंशा समझनी होगी। ये इतनी सीटों पर भी नहीं लड़ रहे कि लोकसभा में नेता विपक्ष का पद भी हासिल कर सकें लेकिन सपने देखते हैं प्रधानमंत्री बनने के। इनकी आपस में ही लड़ाई चल रही है, ये देश का भला नहीं कर सकते। देश में ऐसी सरकार चाहिए जो हर ह‍िंसा को खत्‍म करे। आतंकवाद को कौन खत्‍म कर सकता है, यह केवल और केवल वर्तमान भाजपा-नीत एनडीए सरकार ही कर सकती है।