ALL TOP NEWS INDIA STATE POLITICAL CRIME NEWS ENTERTAINMENT SPORTS CONTACT US
सिंधु देश का गौरव और उनके जैसे खिलाडी युवाओं के लिए अनुकरणीय उदाहरणः उपराष्ट्रपति
September 1, 2019 • Admin

रिपोर्ट : अजीत कुमार

 

 

उपराष्ट्रपति एम. वैंकेया नायडू ने कहा है कि पी.वी सिंधु राष्ट्र का गौरव हैं और उनके जैसे खिलाडी युवाओं के लिए अनुकरणीय उदाहरण हैं।
उप राष्ट्रपति बीडब्ल्यूएफ विश्व चैम्पियन पी.वी. सिंधु द्वारा अपने माता-पिता के साथ हैदराबाद में उप राष्ट्रपति निवास पर मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत कर रहे थे। सुश्री सिंधु इस प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय हैं।
उप राष्ट्रपति ने 24 वर्षीय बैडमिंटन स्टार की कड़ी मेहनत, समर्पण और प्रतिबद्धता की सराहना करते हुए कहा कि सिंधु सभी देशवासियों के लिए प्रेरणा का स्रोत है।
अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए सिंधु द्वारा विशुद्ध भोजन लेने, कड़ी अनुशासित प्रैक्टिस करने की प्रशंसा करते हुए उप राष्ट्रपति ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा किया गया फिट इंडिया का आहवान एक राष्ट्रीय आंदोलन बनना चाहिए। यह उपयुक्त, समय के अनुकूल और वांछित हैं।
उप राष्ट्रपति ने कहा कि भारत को जनसंख्या संबंधी लाभ मिला हुआ हैं। उसकी 65 प्रतिशत जनसंख्या 35 वर्ष की उम्र से कम है। उन्होंने कहा कि देश को नई ऊंचाईयों तक ले जाने के लिए स्वस्थ, सक्रिय और उपयोगी युवा शक्ति का होना जरूरी है।
उप राष्ट्रपति ने कहा फिट इंडिया जैसे प्रयास ऐसे समय में बेहद प्रासंगिक हैं जब आधुनिक जीवन शैली और खानपान की आदतों में बदलाव के कारण गैर संचारी रोग बढ़ रहे है। उन्होंने कहा कि शरीर और दिमाग की फिटनेस से व्यक्ति न केवल सतर्क और स्मार्ट रहता है बल्कि लक्ष्यों को हासिल करने के लिए उन्हें ताकत मिलती है और सामाजिक दृष्टि से वह उपयोगी बन जाता है।
उन्होंने जोऱ देकर कहा कि एक संपन्न राष्ट्र बनने के लिए स्वस्थ राष्ट्र बनना एक आवश्यक पूर्व शर्त है।