ALL TOP NEWS INDIA STATE POLITICAL CRIME NEWS ENTERTAINMENT SPORTS CONTACT US
72वें वार्षिक निरंकारी सन्त समागम की तैयारियां अंतिम चरण में, निरंकारी सन्त समागम 16 नवम्बर से प्रारंभ
November 13, 2019 • Admin

रिपोर्ट : अजीत कुमार

 

 

संत निरकारी मिशन तीन-दिवसीय 72वाँ वार्षिक निरंकारी सन्त समागम 16 से 18 नवम्बर को आयोजित करने जा रहा है। सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज ने समागम स्थल पर तैयारियों का उद्घाटन 6 अक्तूबर 2019 को अपने कर-कमलों द्वारा किया। तभी से 4000 से भी अधिक सन्त निरंकारी सेवादल के सदस्य तथा अन्य श्रद्धालु भक्त प्रत्येक दिन सेवा कर रहे हैं। पिछले कई वर्षों की भांति इनमें दिल्ली और हरियाणा के अलावा देश के अन्य राज्यों से आकर भी श्रद्धालु भक्त सेवा कर रहे हैं।

गत वर्ष की भान्ति इस वर्ष भी यह समागम 'सन्त निरंकारी आध्यात्मिक स्थल' जी.टी. रोड, समालखा में आयोजित किया जा रहा है जो कि 615 एकड़ से भी अधिक क्षेत्र में फैला हुआ है। आज कल जी.टी. रोड से आने जाने वाले यात्रियों के लिए यह शामियानों की चमकती नगरी एक आर्कषण का केन्द्र बनी हुई है। समागम में जहां हर वर्ष की भांति भारत के विभिन्न प्रातों से लाखों की संख्या में हर वर्ष की भांति भक्तों के आने की सम्भावना है वहीें दूर देशों से भी हजारों प्रतिनिधियों के सम्मिलित होने की सम्भावना है ।

समागम के प्रबन्ध के लिए सन्त निरंकारी मण्डल की कार्यकारिणी समिति को ही समागम संचालन की जिम्म्ेेादारी सौंपी गई है। सन्त निरकारी मण्डल के उप - प्रधान, वी. डी. नागपाल जी को समागम के संयोजक की जिम्मेदारी दी गई है। केन्द्रीय योजना तथा सलाहकार बोर्ड के सदस्यों एवं सन्त निरंकारी सेवादल के केन्द्रीय अधिकारियों से भी इस समिति में सहयोग प्राप्त किया जा रहा है। प्रत्येक विभाग की सहायता के लिए कुछ उप समितियों का गठन भी किया गया है।

बसों तथा अन्य वाहनों की पार्किंग व्यवस्था भी सत्संग पंडाल से अधिक दूर नहीं है। समागम से सबंधित किसी भी जानकारी को प्राप्त करने के लिये एक हेल्प लाइन भी चलाई गई है जिसका नम्बर है - 1800-123-109090। यह हेल्पलाईन सेवा 10 नवम्बर से 20 नवम्बर तक 24 घंटे उपलब्ध रहेगी।

सत्संग पंडाल के पीछे 'निरंकारी प्रदर्शनी' का आयोजन किया जा रहा है जो निरंकारी संत समागम के मुख्य विषय 'सन्त निरकारी मिशन के 90 वर्ष' पर केन्द्रित रहेगी। प्रदर्शनी की तैयारियों में सैकड़ों कलाकार एंव सेवादार लगातार जुटे हुये हैं। यह प्रदर्शनी मिशन के मौलिक सिद्धान्तों एवं इतिहास के साथ-साथ समागम की महत्ता, सद्गुरु की भारत एंव दूर देशों की कल्याण यात्राओं तथा समाज कल्याण की गतिविधियों को दर्शायेगी। इसी प्रदर्शनी के एक हिस्से में स्टूडियो डिवाइन ने संत निरंकारी मिशन के इतिहास पर आधारित छः वृत्त चित्रों के प्रदर्शन का आयोजन किया है जिनके लिए दो आॅडिटोरियम बनाये किए गये है। इसके अतिरिक्त मिशन से संबंधित किसी भी जानकारी को प्राप्त करने के लिए क्यू आर कोड तथा क्योस्क बनाये गये है। निरंकारी प्रदर्शनी के अतिरिक्त मण्डल का स्वास्थ्य एवं समाज कल्याण विभाग भी अपनी गतिविधियों की प्रदर्शनी लगायेगा जिसमें मानव शरीर को स्वस्थ रखने के उपायों को दर्शाया गया है।