ALL TOP NEWS INDIA STATE POLITICAL CRIME NEWS ENTERTAINMENT SPORTS CONTACT US
आयुष्मान खुराना, भूमि पेडनेकर और यामी गौतम ने दिल्ली में किया ‘बाला’ का प्रचार
November 3, 2019 • Admin

रिपोर्ट : अजीत कुमार

 

 

पिछले कुछ समय से अभिनेता आयुष्मान खुराना ने बाॅलीवुड जगत में अपनी एक अलग पहचान बनाई है। आयुष्मान ने अपनी हर फिल्म में अपने किरदार से एक विशेष छवि छोडी है। इसी फेहरिस्त में अब आयुष्मान खुराना एक बार फिर से दर्शकों को गुदगुदाने आ रहे हैं। बहुत जल्द रिलीज होने जा रही फिल्म 'बाला' की स्टारकास्ट आयुष्मान खुराना, भूमि पेडनेकर और यामी गौतम राजधानी दिल्ली पहुॅचे जहां उ्रन्होने फिल्म से जुड़े अनुभव साझा किए। यह फिल्म 8 नवंबर 2019 को रिलीज होगी।

 

आत्मविश्वास और सामाजिक दबाव के बीच की कहानी फिल्म बाला

 

बता दें कि 'बाला' अमर कौशिक द्वारा निर्देशित और दिनेश विजान द्वारा निर्मित एक सटायर फिल्म है। आयुष्मान खुराना ने इसमें कानपुर में रहने वाले एक व्यक्ति की भूमिका निभाई है, जो एलोपेसिया से पीड़ित हैं, और फिल्म की कहानी उनके आत्मविष्वास की कमी और संतुलन के साथ आने वाले सामाजिक दबाव के बारे में है। भूमि पेडनेकर, यामी गौतम, जावेद जाफरी और सौरभ शुक्ल सहायक भूमिकाओं में हैं।
इस अवसर पर आयुष्मान खुराना ने अपने किरदार के बारे बात करते हुए कहा, कि हर दिन उन्हे पूरी मेकअप के साथ तैयार होने में करीब ढाई घंटे लगते थे, क्योंकि उनका लुक बहुत ही अलग था। उन्होने बताया कि उन्हे वास्तव में यह महसूस करने में कि उनका किरदार एक रोगी का है यह समझने में लगभग 4-5 दिन लग गए। दूसरी बात यह है कि इस रोल को निभाने के लिए दर्शकों की एक अलग सहानुभूति की भी जरूरत थी।'
भूमि ने अपने चरित्र के बारे में बताया। भमि के किरदार का नाम है निकिता, जिसने खुद को बहुत ही अच्छी तरह से तैयार किया है, क्योंकि बचपन से ही उसे अपने श्याम रंग के बारे में काफी ताने और टिप्पणियां सुनने को मिली हैं। ऐसे में वह रंग के बारे में लोगों के सोचने के तरीके को बदलने के लिए एक अलग ही यात्रा पर है।' उन्होंने यह भी कहा, 'निजी जीवन में भी, मेरे पास ऐसे दोस्त हैं जो इस भेदभाव से गुजरे हैं और उनकी त्वचा के रंग के कारण उनके जीवन में कई समस्याओं का सामना करना पड़ा है।'
यामी ने फिल्म में अपनी भूमिका के बारे में बताया, 'कि वह एक छोटे शहर की लड़की की भूमिका निभा रही है, जिसका नाम परी है। वह अपनी ही दुनिया में रहती है और एक टिक टॉक स्टार है। वह खुद को बहुत खूबसूरत मानती है और वह खुद के बारे में इससे ज्यादा बहुम कुछ नहीं सोचती है। वह खुद को एक परी से कम, लेकिन शारीरिक सुंदरता के बारे में समाज की निर्धारित दकियानूसी सोच को तोड़ने की कोशिश भी करती है।'
कुल मिलाकर अभिनेता आयुष्मान खुराना अपनी इस आने वाली फिल्म से दर्शकों के बीच कितना कमाल दिखा पाएंगे ये तो समय ही बताएगा, लेकिन कुछ अलग हटकर काम करने वाले आयुष्मान खुराना की एक डिफेरेंट फिल्म एक बार जरूर देखने लायक होगी।