ALL TOP NEWS INDIA STATE POLITICAL CRIME NEWS ENTERTAINMENT SPORTS CONTACT US
भारत-फिनलैंड संयुक्त कमीशन का 19वां अधिवेशन संपन्न
November 21, 2019 • Admin

 

 

 

भारत-फ़िनलैंड संयुक्त कमीशन का 19वां अधिवेशन 20 -21 नवंबर को दिल्ली में आयोजित किया गया। इसका तकनीकी सत्र 20 नवंबर को और संयुक्त कमीशन सत्र 21 नवंबर को संपन्न हुआ। भारत की ओर से भारत सरकार के वाणिज्य विभाग की संयुक्त सचिव निधि मणि त्रिपाठी और फिनलैंड की ओर से वहां के विदेश मंत्रालय के अमेरिकी और एशियाई विभाग की महानिदेशक पीरिटा असुनमा ने संयुक्त कमीशन के अधिवेशन की अध्यक्षता की।

संयुक्त कमीशन के अधिवेशन की कार्यसूची में डब्ल्यूटीओ मुद्दे, भारत - यूरोपीय संघ बीटीआईए, द्विपक्षीय व्यापार और निवेश संबंध, व्यापार अवरोध मुद्दे और व्यापार को बढ़ावा देने के उपाय, बिजली, पेट्रोलियम और गैस, नई और नवीकरणीय ऊर्जा, पर्यावरण, क्लीनटेक के क्षेत्रों में सहयोग, विज्ञान, प्रौद्योगिकी और नवाचार, शिक्षा और कौशल विकास और श्रम गतिशीलता, आईसीटी सहित डिजिटलाइजेशन, परिवहन, वस्त्र क्षेत्र में सहयोग, सांस्कृतिक सहयोग और पर्यटन सहयोग आदि शामिल हैं।

दोनों पक्षों ने भारत और फिनलैंड के बीच आर्थिक संबंधों को मजबूत करने के लिए एक मंच के रूप में संयुक्त कमीशन की उपयोगी भूमिका की पुष्टि की। संयुक्त कमीशन के विचार-विमर्श में दोनों देशों के बीच साझेदारी की पुष्टि की गई। दोनों पक्षों ने अपने सहयोग को जारी रखने की वचनबद्धता की पुष्टि भी की, ताकि भविष्य की साझेदारियों को सुदृढ़ करने और भविष्य में अवसरों के सृजन के लिए आधार तैयार किया जा सके।

इस वर्ष भारत-फिनलैंड राजनयिक संबंध के 70 वर्ष पूरे हो रहे हैं। भारत और फिनलैंड अनेक मुद्दों पर सहयोग करते हैं और यूरोपीय संघ के एक सदस्य के रूप में संतुलित और व्यापक व्यापार संबंधों के लिए फिनलैंड भारत को एक रणनीतिक साझेदार मानता है।

भारत और फिनलैंड के बीच द्विपक्षीय व्यापार 2014-15 में कुल 1.247 बिलियन और 2016-17 में 1.284 बिलियन अमरीकी डॉलर था। 2016 में फिनलैंड की कंपनियों ने अप्रैल 2000 से जुलाई 2017 के बीच 419 मिलियन अमरीकी डॉलर का निवेश किया है। फिनलैंड की लगभग 100 कंपनियों का भारत में कारोबार है और लगभग 30 भारतीय कंपनियां मुख्य रूप से सॉफ्टवेयर और कंसल्टेंसी क्षेत्र में फिनलैंड में सक्रिय हैं।

भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के वाणिज्य विभाग की संयुक्त सचिव सुश्री निधि मणि त्रिपाठी ने किया। प्रतिनिधिमंडल में उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (डीपीआईआईटी), नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा, पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन, कौशल विकास एवं उद्यमिता, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं आईटी, सड़क परिवहन एवं राजमार्ग, कपड़ा, संस्कृति, पर्यटन, बिजली और नागरिक उड्डयन मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी शामिल हैं। भारत सरकार के विज्ञान और प्रौद्योगिकी, जैव प्रौद्योगिकी, उच्च शिक्षा और दूरसंचार मंत्रालयों के विभिन्न विभागों के प्रतिनिधि भी इस प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा थे। ।

फिनलैंड की ओर से फिनलैंड के विदेश मंत्रालय के अमरीका और एशिया विभाग की महानिदेशक सुश्री पिरिटा असुनामा ने नेतृत्व किया। फिनलैंड के प्रतिनिधिमंडल में विदेशी मामलों, अर्थव्यवस्था और रोजगार एवं शिक्षा तथा संस्कृति मंत्रालयों के प्रतिनिधि के साथ-साथ फिनलैंड के दूतावास के अधिकारी तथा फिनलैंड चैंबर ऑफ कॉमर्स एवं उद्योग परिसंघ के प्रतिनिधि शामिल थे।

फिनलैंड ने 2021 में हेलसिंकी में संयुक्त आयोग के 20वें अधिवेशन के लिए भारत को आमंत्रित किया।