ALL TOP NEWS INDIA STATE POLITICAL CRIME NEWS ENTERTAINMENT SPORTS CONTACT US
डीसीपी गौरव शर्मा की अगवानी में इलाके में पुलिस का फ्लैग मार्च
December 18, 2019 • Admin

रिपोर्ट : अजीत कुमार

 

 

दिल्ली में जामिया और ज़ाफ़राबाद में हुई हिंसा के बाद अब बाकी इलाकिं में पुकिस सक्रिय हो गयी है। उत्तरी बाहरी जिला के डीसीपी गौरव शर्मा की अगवानी में लगातार इलाके में पुलिस का फ्लैग मार्च किया जा रहा है। आउटर नार्थ और नार्थ वेस्ट के मुस्लिम बहुल इलाकों में पब्लिक के बीच पुलिस के आला अधिकारी पहुचे और उनको जागरूक किया कि पुकिस उनकी सुरक्षा में खड़ी है साथ ही यह संदेश भी दिया गया कि इलाके में किसी भी तरीके की अप्रिय घटना बर्दाश्त नही की जाएगी। साथ ही डीसीपी गौरव शर्मा ने खुद इलाके में गश्त के दौरान गड़बड़ी फैलाने वालों से सख्ती से निपटने की  चेतावनी दी।
दिल्ली के बाहरी-उत्तरी जिला व उत्तरी-पश्चिमी जिले में डीसीपी गौरव शर्मा और उनकी टीम ने पूरे इलाके में गश्त शुरू की है। अभी यह गस्त दोनों डिस्ट्रिक्ट में जारी है। इन दोनों जिलों में नागरिकता कानून को लेकर भले ही कोई विरोध ना हुआ हो फिर भी एहतियात के तौर पर पुलिस मुस्तैद है और अलग-अलग जगह पर जाकर खुद डीसीपी लोगों को इस बारे में समझा रहे हैं कि नागरिकता कानून का भारत के लोगों से कोई संबंध नहीं है न ही कोई असर पड़ेगा। डीसीपी गौरव शर्मा  इसी दौरान बवाना जेजे कॉलोनी में भी पहुंचे और वहां लोगों से मुलाकात की। आगे आगे मोटर साइकिलों पर सवार पुलिस कर्मियों की संख्या उसके बाद एरिया के दूसरे पुलिस अधिकारी तो साथ में डीसीपी गौरव शर्मा काफिले में चल रहे थे। लोगों को जाकर बताया गया समझाया गया कि नागरिकता कानून का भारत के लोगों से कोई मतलब नहीं है उनकी नागरिकता पर कोई असर नहीं पड़ेगा। यदि कोई व्यक्ति आकर उन्हें इस बारे में कुछ भ्रम फैलाता है तो उसकी सूचना तुरंत पुलिस को दें। किसी के बहकावे में ना आएं यदि कोई शख्स किसी के बहकावे में आकर कुछ गलत करेगा तो उसे सख्ती से निपटा जाएगा यह भी साफ कर दिया गया है। साथ ही एरिया की सभी अमन कमेटियों के संपर्क में खुद डीजीपी महोदय है। पुलिस का कहना है कि पुलिस इन दोनों जिले में पूरी तरह से तैयार है। यदि कोई घटना की कॉल मिलती है तो 5 मिनट के अंदर पूरी पुलिस फोर्स उपलब्ध हो जाएगी और मौके पर 5 मिनट में ही पहुंच जाएगी। डीसीपी गौरव शर्मा के पास बाहरी-उत्तरी जिले के साथ-साथ उत्तरी-पश्चिमी जिले का भी चार्ज मिला हुआ है इसलिए वह दोनों जिलों में अपनी मुस्तैदी के साथ रात में खुद गश्त कर रहे हैं।
इस एरिया में किसी भी तरह के विरोध की संभावना तो कम है बावजूद इसके इस तरह की मुस्तैदी जरूरी भी है और पुलिस इस एरिया में मुस्तैद नजर भी आ रही है। जरूरत है किसी भी तरह की घटना से पहले ही मुस्तैदी हो तो शायद घटना ना घटे। फिलहाल रात के वक्त यह गश्त एरिया में दोनों जिलों में चल रही है और दिल्ली पुलिस की इसी तरह से पूरी दिल्ली की अलग-अलग जिलों में गश्त जारी है।