ALL TOP NEWS INDIA STATE POLITICAL CRIME NEWS ENTERTAINMENT SPORTS CONTACT US
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह एससीओ संयुक्त शहरी भूकंप खोज एवं बचाव अभ्यास का उद्घाटन करेंगे
November 2, 2019 • Admin

रिपोर्ट : अजीत कुमार

 

 

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह 04 नवंबर को दिल्ली के डॉ. अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर में शहरी भूकंप खोज एवं बचाव अभ्यास पर शंघाई सहयोग संगठन संयुक्त अभ्यास का उद्घाटन करेंगे। केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय 07 नवंबर को होने वाले समापन समारोह के मुख्य अतिथि होंगे।

भारत सरकार की पहल पर, राष्ट्रीय आपदा मोचन बल सभी आठ शंघाई सहयोग संगठन देशों के साथ "शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) संयुक्त शहरी भूकंप खोज एवं बचाव अभ्यास (एससीओजेटीईएक्स-2019)" की मेजबानी कर रहा है। इस अभ्यास का उद्देश्य आपदा प्रतिक्रिया पूर्वाभ्यास, ज्ञान, अनुभव, तकनीकी को साझा करना और आपसी समन्वय बनाना है। यह अभ्यास भूकंप के परिदृश्य में बहु-एजेंसी संचालन से जुड़े समन्वय और सहयोग को बढ़ाने का अवसर भी प्रदान करेगा।

इस चार दिवसीय अभ्यास का आयोजन दिल्ली में 4 से 7 नवंबर के दौरान किया जाएगा। इस अभ्यास में चीन, भारत, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, पाकिस्तान, रूस, ताजिकिस्तान और उज्बेकिस्तान सभी आठ सदस्य देश भाग लेंगे।

अंतर्राष्ट्रीय खोज एवं बचाव सलाहकार समूह (आईएनएसएआरएजी) की कार्यप्रणाली और दिशानिर्देशों के अनुसार,  इस चार दिवसीय अभ्यास का आयोजन किया जाएगा। शंघाई सहयोग संगठन सदस्य देशों के लिए एक संयुक्त शहरी भूकंप खोज और बचाव अभ्यास के  आयोजन के पश्चात आपातकालीन स्थिति की रोकथाम और उन्मूलन हेतु उत्तरदायी मंत्रालयों के विशेषज्ञों की एक बैठक होगी।

अभ्यास के दौरान, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर शहरी खोज और बचाव की भूमिका (यूएसएआर), आपातकालीन चिकित्सा दल (ईएमटी), मानतावादी प्रणाली/ द यूनाइटेड नेशंस डिजास्टर असेसमेंट एंड कोऑर्डिनेशन (यूएनडीएसी)/ आपातकाल प्रक्रिया और मूल्यांकन दल (ईआरएटी), स्थल पर अभियान सहयोग केन्द्र (ओएसओसीसी), आपातकाल संचालन केन्द्र की स्थापना (ईओसी), एकीकृत कमान पोस्ट (आईसीपी), प्रतिक्रिया समूह, स्थानीय आपातकाल प्रबंधन प्राधिकरण (एलईएमए) और समूह बैठकें, मानवतावादी नागर-सैन्य सहयोग (सीएम-कॉर्ड) जैसे विषयों पर सभी 8 सदस्य देशों के प्रतिनिधियों के बीच विचार-विमर्श और अभ्यास किया जाएगा।

शहरी भूकंप खोज और बचाव पर शंघाई सहयोग संगठन के संयुक्त अभ्यास का मुख्य केन्द्र बिन्दु तत्काल प्रतिक्रिया के लिए अंतर-सरकारी वार्तालाप के प्रभावी सक्रियण हेतु क्षेत्रीय तैयारी और परीक्षण पर रहेगा।

उपरोक्त के अलावा, अंतर्राष्ट्रीय खोज और बचाव सलाहकार समूह, एशियन कॉर्डिनेशन सेंटर फॉर ह्यूमनटेरियन असिस्टेंस (एएचए), ब्राजील, मंगोलिया और दक्षिण अफ्रीका के प्रतिनिधियों को पर्यवेक्षकों के रूप में आमंत्रित किया गया है। सभी एससीओ सदस्य देशों के दूतावासों के प्रतिनिधि, राज्य आपदा मोचन बल के प्रमुख और अन्य हितधारकों के प्रतिनिधि भी इस अभ्यास में भाग लेंगे।