ALL TOP NEWS INDIA STATE POLITICAL CRIME NEWS ENTERTAINMENT SPORTS CONTACT US
रक्षा राज्य मंत्री श्रीपद नाइक ने एचईएमआरएल पुणे में डीआरडीओ के इग्नाइटर कॉम्प्लेक्स का उद्घाटन किया
November 5, 2019 • Admin

 

 

 

रक्षा राज्य मंत्री श्रीपद नाइक ने पुणे में उच्च ऊर्जा सामग्री अनुसंधान प्रयोगशाला (एचईएमआरएल) में रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) इग्नाइटर कॉम्प्लेक्स का उद्घाटन किया। एचईएमआरएल डीआरडीओ की एक प्रमुख प्रयोगशाला है, जो मुख्य रूप से रॉकेट और गन प्रोपेलेंट, पायरोटेक्निक डिवाइसों, हाई एक्सप्लोसिव सिस्टमों और उच्च ऊर्जा अणुओं के संश्लेषण को विकसित करने में जुटा है।

एचईएमआरएल ने इग्निशन सिस्टम के डिजाइन, प्रसंस्करण और मूल्यांकन के लिए अत्याधुनिक सुविधा का निर्माण किया है। इस सुविधा में प्रोसेसिंग, असेंबली और स्टोरेज बिल्डिंग और एक डिज़ाइन सेंटर शामिल हैं। जैसे सीव शेकर, प्लैनेटरी मिक्सर, ग्रेनुलेटिंग मशीन, पेलेटिंग मशीन आदि जैसे दूर-नियंत्रित अत्‍याधुनिक उपकरणों को प्रोसेस बिल्डिंगों में स्थापित किया गया है। डिजाइन, मॉडलिंग और सिमुलेशन प्रयोगशाला; असेंबली और टेस्टिंग सेंटर भी इस इग्नाइटर कॉम्प्लेक्स का हिस्सा हैं।

रॉकेट मोटर की इग्निशन श्रृंखला में, इग्निशन एक महत्वपूर्ण और अत्यधिक महत्वपूर्ण प्रक्रिया है। एचईएमआरएल ने ऑर्गेनिक बाइंडरों का उपयोग करते हुए विभिन्न ईंधन / ऑक्सीडाइजर आधारित इग्नाइटर सिस्‍टम विकसित की हैं। प्रयोगशाला ने कई सामरिक और साथ ही रणनीतिक मिसाइलों के रॉकेट मोटर्स की विश्वसनीयता सुनिश्चित करने के लिए कई इग्निशन सिस्टम विकसित किए हैं।

एचईएमआरएल में अग्नि, पृथ्वी, आकाश, नाग, पिनाक, लंबी दूरी की सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल (एलआरएसएएम), आदि के लिए इग्निशन सिस्टम को डिजाइन और विकसित किया गया है। आकाश, नाग मिसाइलों और पिनाका एमके- I रॉकेट के लिए प्रौद्योगिकी को आयुध निर्माणी, देहू रोड, पुणे और निजी उद्योगों में हस्‍तांतरित कर दिया गया है।

उद्घाटन के दौरान आर्मामेंट कॉम्बैट इंजीनियरिंग (एसीई) के महानिदेशक पी. के. मेहता, एचईएमआरएल के निदेशक केपीएस मूर्ति, आयुध अनुसंधान एवं विकास प्रतिष्ठान (एआरडीई) के निदेशक डॉ.वीवी राव और अनुसंधान एवं विकास (पश्चिम) के मुख्य निर्माण अभियंता अलोके मिश्रा उपस्थित थे।