ALL TOP NEWS INDIA STATE POLITICAL CRIME NEWS ENTERTAINMENT SPORTS CONTACT US
तुर्कमान गेट पर पुलिस और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच झड़पें, कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने किया चक्का जाम
November 18, 2019 • Admin

रिपोर्ट : अजीत कुमार

 

 

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सुभाष चौपड़ा की अगुवाई में भारी संख्या में आम जनता व कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने राजधानी में दूषित पानी के लिए जिम्मेदार केजरीवाल सरकार के खिलाफ पुरानी दिल्ली के तुर्कमान गेट पर जबरदस्त प्रदर्शन किया। गुस्साऐ कार्यकर्ताओं ने एक घंटे तक चक्का जाम किया। प्रदर्शन के दौरान सुभाष चौपड़ा व स्थानीय कार्यकर्ताओं ने अपने गले में दूषित पानी की बोतलों की माला पहनी हुई थी।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं व पुलिस के बीच उस समय तीखी झड़पे हुई जब पुलिस के आला अधिकारी सुभाष चौपड़ा, जय प्रकाश अग्रवाल, अरविन्दर सिंह लवली, मुकेश शर्मा और शोयब इकबाल को जबरन गिरफतार करने का प्रयास कर रहे थे।

गुस्साएं प्रदर्शनकारी दोपहर 2 बजे से ही निगम पार्षद आले मौहम्मद खान, कांग्रेस नेता जगजीवन शर्मा के साथ ''दिल्ली की दुखद कहानी -दूषित वायु गंदा पानी” , ''ये कैसी राजधानी है-पीने को गंदा पानी है, ''केजरीवाल की लापरवाही-गंदे पानी की सप्लाई'', ''पीने को गंदा पानी है -खतरे में ज़िंदगानी है” आदि नारे लगाते हुए तुर्कमान गेट स्थित दिल्ली जल बोर्ड के दफतर पर जमा होने शुरु हो गए थे। सुभाष चौपड़ा, जय प्रकाश अग्रवाल व मुकेश शर्मा के मौके पर पहुचते ही गुस्साएं कार्यकर्ता बेकाबू हो गए और उन्होंने चक्का जाम कर दिया। प्रदर्शनकारियों ने अपने हाथों में दूषित पानी की बोतले व प्ले कार्ड ले रखे थे।

सुभाष चौपड़ा ने प्रदर्शनकारियों को सम्बोधित करते हुए मांग की कि दूषित पानी व दूषित वायु के लिए जिम्मेदार अरविन्द केजरीवाल के खिलाफ लोगों के जीवन से खिलवाड़ करने व लापरवाही का अपराधिक मामला दर्ज होना चाहिए क्योंकि केजरीवाल के शासन मे आने के बाद डायरिया से अब तक 22,57,298 लोग और कोलेरा से 18,010 लोग चपेट में आ चुके है। उन्होंने कहा कि दिल्ली की अधिकांश आबादी आज दूषित पानी और दूषित वायु के चलते न केवल फेंफडों की बीमारी से ग्रस्त है बल्कि दूषित पानी से हाने वाली डायरिया व कोलेरा जैसी बीमारियों मे अत्यधिक वृद्धि हो रही हैं। उन्होंने कहा कि अस्पतालों में लाईने लगी हुई है और गरीब आदमी पर कमरतोड़ मंहगाई के साथ-साथ बीमारी की दोहरी मार पड़ रही है। उन्होंने कहा कि यह सरकार केवल झूठे प्रचार करती हैं। दिल्ली की आम जनता को पानी के रुप में स्लो पायजन दे रही है। उन्होंने कहा कि आज दिल्ली के लोग अपने आपको ठगा हुआ महसूस कर रहे है।

सुभाष चौपड़ा, जय प्रकाश अग्रवाल, अरविन्दर सिंह लवली व कीर्ति आजाद ने कहा कि कांग्रेस दिल्ली के लोगों के हितों की लड़ाई लड़ने में कोई कसर नही छोड़ेगी। उन्होंने कहा कि भाजपा को कोई नैतिक अधिकार नही है कि वो इस मुददे को उठाए क्योकि भाजपा भी इसके लिए बराबर की जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल सरकार न केवल जनता की समस्याओं के प्रति उदासीन है बल्कि सच तो यह है कि दिल्ली सरकार का सारा समय झूठ बोलने व दिल्ली के सामाजिक ताने-बाने को दूषित करने में चला जाता है। चौपड़ा ने मांग की कि अरविन्द केजरीवाल दिल्ली जल बोर्ड के चेयरमेन पद से तुरंत इस्तीफा दें।

शोयब इकबाल ने आरोप लगाया कि पुरानी दिल्ली क्षेत्र में जहां संकीर्ण गलियां है वहां दूषित पानी से सबसे ज्यादा लोग प्रभावित है। उन्होंने यह भी कहा कि कमोबेश यही हालत पूरी दिल्ली की है। उन्होंने कहा कि आज सारी पुरानी दिल्ली में पीने के पानी का आभाव है। खासकर अल्पसंख्यक लोगों को निशाना बनाया जा रहा है।

पार्टी के वरिष्ठ नेता व मुख्य प्रवक्ता मुकेश शर्मा ने दिल्लीवासियों से अपील की है कि वो केजरीवाल सरकार द्वारा की जा रही इस अपराधिक लापरवाही को सहन न करें और सड़कों पर आकर अपना विरोध जाहिर करें। उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली कांग्रेस दूषित वायु और दूषित पानी को लेकर गंभीर है और वार्ड स्तर पर पार्टी लम्बी लड़ाई लड़ने की तैयारी में है।